AMN

चंद्रयान-3 मिशन के लैंडर मॉड्यूल के परिक्रमा-पथ को आज सुबह सफलतापूर्वक बदला गया। अब इस लैंडर मॉड्यूल की चंद्रमा की कक्षा में निकटतम दूरी 25 किलोमीटर और अधिकतम दूरी 134 किलोमीटर हो गई है। इसरो के अनुसार, लैंडर मॉड्यूल विक्रम सही स्थिति में है और यह अपनी इसी कक्षा से चंद्रमा की सतह पर उतरने का प्रयास करेगा। चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर इसकी सॉफ्ट लैंडिंग 23 अगस्त को शाम साढ़े पांच बजे से साढ़े छह बजे के बीच निर्धारित है। चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सफलतापूर्वक उतरने पर भारत यह उपलब्धि हासिल करने वाला चौथा देश बन जाएगा।