FreeCurrencyRates.com

इंडियन आवाज़     24 Jun 2018 06:42:48      انڈین آواز
Ad

झारखंड निवेश के लिए सबसे उपयुक्त राज्य : प्रधानमंत्री मोदी

AMN / RANCHI

झारखंड की राजधानी रांची में आयोजित दो दिवसीय ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट ‘मोमेंटम झारखंड’ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयोजन के सफलतापूर्वक आयोजन के लिए शुभकामनाएं दीं और कहा कि यह प्रदेश खनिज संपदाओं से परिपूर्ण प्रदेश है.उन्होंने कहा  पूर्वी भारत के विकास के लिए झारखंड में निवेश का होना बहुत फलदायी होगा. उन्होंने कहा कि यह प्रदेश निवेश के लिहाज से सबसे उपयुक्त प्रदेश है. यहां निवेश फलदायी होगा और प्रदेश विकास की ओर अग्रसर होगा.  समिट ‘मोमेंटम झारखंड’ में प्रधानमंत्री का लिखित भाषण पढ़ा गया.

Jkhand

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्‌वीट कर शुभकामनाएं दी थीं. उन्होंने ट्‌वीट किया है मैं उम्मीद करता हूं कि यह समिट फलदायक होगा और झारखंड के विकास में सहायक होगा.

ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट ‘मोमेंटम झारखंड’

झारखंड के लोगों की प्रतिभा और संकल्पशक्ति तथा सरकार के प्रयासों से यह प्रदेश विकास के रिकॉर्ड कायम करेगा. निवेश से झारखंड के लोगों को कई अवसर मिलेंगे और प्रदेश का चहुंमुखी विकास होगा.
दो दिवसीय ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट का औपचारिक उद्घाटन केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दीप प्रजज्वलित कर किया. दो दिनों तक चलने वाले इस समिट में देश -दुनिया से कई बड़े उद्योगपति मौजूद हैं. सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू, नितिन गडकरी, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी आदि मौजूद हैं. आयोजन में टाटा संस के रतन टाटा, बिड़ला ग्रुप के कुमरमंगलम बिड़ला, वेदांता के अनिल अग्रवाल, जिंदल समूह के नवीन जिंदल, एस्सार समूह के शशि रुइया आदि मौजूद हैं. इनके साथ कई देशों के राजदूत व अन्य महत्वपूर्ण प्रतिनिधि मौजूद हैं.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने समिट को संबोधित करते हुए कहा कि 105 साल पहले जमशेदजी ने झारखंड में संभावनाएं देखी थी. उनका निर्णय सही था. झारखंड में ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट का आयोजन इतिहास बदलने वाला है. आज हम स्मार्ट सिटी की बात करते हैं लेकिन जमशेदपुर दुनिया के कई स्मार्ट सिटी से बेहतर है. सांस्कृतिक रूप से देखे तो झारखंड काफी समृद्ध राज्य है लेकिन एक सच्चाई यह भी है कि राज्य की ज्यादातर आबादी गरीबी में जी रही है. राज्य में खेल के समृद्ध परंपराओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि यहां कि आदिवासी हॉकी खिलाड़ी ओलंपिक में मेडल जीतते आये हैं.
समय बीतने के साथ ही देश के कई राज्यों में अलग राज्य करने की मांग उठऩे लगी. लोग अपना अलग राज्य देखना चाहते थे और खुद शासन करने की इच्छा व्यक्त करने लगे. नयी सरकार अच्छा काम कर रही है. इज ऑफ डूइंग बिजनेस में झारखंड का तीसरा स्थान है. मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर में झारखंड की स्थिति काफी मजबूत है जल्द ही यहां सर्विस सेक्टर में ग्रोथ दिखेगा. राज्य में शहरीकरण की काफी संभावनाएं है. देश के पश्चिमी राज्य तेजी से विकास किये हैं जबकि पूर्वी राज्य अभी भी प्रगति के दृष्टिकोण से देखा जाये तो पीछे है ऐसे में तीव्र गति से काम किये जाने की संभावनाएं है.

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने समिट में सभी प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि निवेश के लिए यह सबसे उपयुक्त समय है. झारखण्ड प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया का हिस्सा है. इसके मोमेंटम झारखंड से इसे बड़ी उम्मीद है. देश में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश हासिल करनेवाले राज्यों में झारखंड को 5 वां तथा व्यापार सुगमता के मामले में सातवां स्थान हासिल है. श्रम सुधार में भी झारखंड पिछले दो वर्षों में लगातार पहले स्थान पर है. झारखंड देश का तीसरा राज्य है, जिसने जीएसटी को स्वीकार किया. राज्य में उद्योग- व्यापार के लिए मैत्रीपूर्ण वातावरण बना है. इसके लिए निवेश प्रोत्साहन के लिए निवेश प्रोत्साहन बोर्ड एवं आइटी एडवाइजरी काउंसिल बनाया गया है और इसमें उद्योग-व्यापार जगत के सफल नायकों को शामिल किया गया है. झारखण्ड एक तेजी से उभरता हुआ युवा प्रदेश है. यह लगातार भारत का सर्वाधिक विकसित और संपन्न राज्य बनने की दिशा में बढ़ रह है. यह प्रदेश संभावनाओं से भरा हुआ है.

केंद्रीय सड़क,परिवहन व जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने झारखंड में मंत्रालय के कामकाज का उल्लेख करते हुए कहा कि झारखंड में सड़क निर्माण का काम तेजी से चल रहा है. पथ निर्माण के लिए 50,000 करोड़ का निवेश किया जायेगा. 2000 करोड़ का साहेबगंज ब्रिज का काम जल्द शुरू होगा. राज्य में 88 रेलवे ब्रिज का निर्माण करने की योजना है. इसमें 600 करोड़ की लागत आयेगी. सीएम रघुवर दास मुझे कई बार जमशेदपुर -रांची सड़क के निर्माण के बारे में कह चुके हैं. इस सड़क का 30.8 प्रतिशत काम हुआ है. एनएचआइ से 1000 करोड़ रुपया फाइनांस किया जायेगा. देश के विकास के लिए लॉजिस्टीक कॉस्ट कम करना जरूरी है. हम 1620 किमी का वाटरवे शुरू करने जा रहे हैं. 1620 किमी के वाटर वे में 50 किमी झारखंड के हिस्से में आयेगा. इस वाटर वेज का उपयोग कोयले के वहन के लिए भी किया जा सकेगा.हल्दिया से साहेबगंज के बीच मल्टीमोडल हब का निर्माण किया जायेगा.

कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने समिट में अपने मंत्रालय का कामकाज का उल्लेख करते हुए कहा कि मंत्रालय ने बुनकर संवर्धन योजना चलाया जा रहा है. झारखंड का सिल्क जर्मनी, यूएस, यूनाइटेड किॆगडम, स्विटजरलैंड में प्रसिद्ध है. हम बुनकर और राज्य सरकार के ब्यूरोक्रेट से लगातार संपर्क में रहेंगे ताकि योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंच पाये.

इवेंस्टर्स समिट 2017 के ब्रांड एंबेंसडर व भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि मैं आज जो भी बोल रहा हूं वो किसी सेलिब्रेटी व क्रिकेटर के हैसियत से नहीं बल्कि एक ऐसे लड़के रूप में जो यहां जन्म लिया है, पला-बढ़ा है. धोनी ने कहा कि जब झारखंड अलग राज्य बना था तब हम बहुत खुश हुए थे लेकिन राज्य राजनीतिक अस्थिरिता का शिकार था. अब यह राजनीतिक रूप से स्थिर है. यहां आगे बढ़ने की भरपूर संभावनाएं है.

वेदान्ता ग्रुप के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने कहा, यह मेरे लिए घरवापसी है. मेरा बचपन हजारीबाग, रामगढ़ और रांची में गुजरा है. मुख्यमंत्री ने जब मुझे फोन किया था तो उनके आवाज में जोश था, विश्वास था. अनिल अग्रवाल ने कहा झारखंड में प्रयोग के तौर पर मैं इस साल 5000 करोड़ का निवेश करूंगा. पूरा शहर दीवाली मना रहा है. राज्य में जो माहौल बना हुआ है उसका फायदा सबको उठाना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ad
Ad

MARQUEE

ADB to fund Rs 1900 crores for development of Tourism in Himachal Pradesh

By Vinit Wahi Department of Economic Affairs, Union Ministry of Finance, has approved a Tourism Infrastructur ...

Air India marks 70 years since 1st India-UK flight

  Air India is marking 70 years since its first flight took off from Mumbai to London in June 1948, wh ...

@Powered By: Logicsart