Ad
FreeCurrencyRates.com

इंडियन आवाज़     15 Nov 2018 10:03:19      انڈین آواز
Ad

इंदौर की मस्जिद में पहुंचे PM मोदी, प्रेम का दिया संदेश…

The Prime Minister, Shri Narendra Modi attending Ashara Mubaraka – Commemoration of the Martyrdom of Imam Husain (SA), organised by the Dawoodi Bohra community, at Saifee Masjid, in Indore, Madhya Pradesh on September 14, 2018.
इंदौर

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा-सबका साथ को बढ़ावा देने की भारत की वसुधैव कुटुम्‍बकम की अवधारणा में विश्‍वास, इसे अन्‍य देशों से अलग पहचान देती है।
मध्‍यप्रदेश में इंदौर में दाउदी बोहरा समुदाय द्वारा आयोजित अशरा मुबारक की मजलि़स को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा-कि भारत की वसुधैव कुटुम्‍बकम् -विश्‍व एक परिवार है और सबको साथ में लेकर चलने की परम्‍परा की अवधारणा, इसे दुनिया के अन्‍य देशों से अलग पहचान दिलाती है।

पूरे विश्‍व को एक परिवार मानने वाले वसुधैव कुटुंबकम हम वो लोग। जो सबको साथ लेकर चलने की परंपरा को जी करके दिखाने वाले लोग। हमारे समाज की, हमारे विरासत की यही शक्ति है, जो हमें दुनिया के दसरे देशों से अलग पहचान पैदा करती है।
पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि बोहरा समाज के बीच आने से प्रेरणा मिलती है. ये समुदाय सबको साथ लेकर चलता है. बोहरा समुदाय दुनिया को भारत के ताक़त से परिचित करा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि बोहरा समुदाय देश और मातृभूमि के प्रति पूरी तरह समर्पित है..

प्रधानमंत्री मोदी ने ईमानदारी, अनुशासन और कानून का पालन करने और व्‍यापार में धोखाधड़ी से बचने की प्रवृत्ति के लिए दाऊदी बोहरा समुदाय की सराहना की।

सरकार की विभिन्‍न कल्‍याणकारी योजनाओं का उल्‍लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आयुष्‍मान योजना देश के पचास करोड़ गरीब लोगों के लिए वरदान है।

The Prime Minister, Shri Narendra Modi attending Ashara Mubaraka – Commemoration of the Martyrdom of Imam Husain (SA), organised by the Dawoodi Bohra community, at Saifee Masjid, in Indore, Madhya Pradesh on September 14, 2018.
The Prime Minister, Narendra Modi attending Ashara Mubaraka – Commemoration of the Martyrdom of Imam Husain (SA), organised by the Dawoodi Bohra community, at Saifee Masjid, in Indore, Madhya Pradesh on September 14, 2018.

प्रधानमंत्री ने कहा हमें अपने अतीत पर गर्व है। वर्तमान पर विश्‍वास है और उज्‍ज्‍वल भविष्‍य के आत्‍मविश्‍वास के साथ संकल्‍प भी है। मैं दुनिया में जहां भी जाता हूं, शांति और विकास के लिए हमारे समाज का जो योगदान है, उसकी बातें मैं लोगों को अवश्‍य करता हूं।
“साथियो, शांति, सद्भाव, सत्‍याग्रह और राष्‍ट्रभक्ति के प्रति बोहरा समाज की भूमिका हमेशा-हमेशा महत्‍वपूर्ण रही है। अपने देश से, अपनी मातृभूमि के प्रति प्रेम और समर्पण की सीख खुद सैय्दना साहब अपने प्रवचनों के माध्‍यम से देते रहे हैं, और अभी भी ज्‍यादा समय उन्‍होंने जितना भी बोले, हमें यही सीख दी कि हमें देश के लिए, समाज के लिए, नियमों के लिए, कानून के लिए, कैसे जीना चाहिए।
इससे पहले पूज्‍य सैय्दना ताहिर सैफूद्दीन साहेब ने भी गांधीजी के साथ मिलकर इन मूल्‍यों को स्‍थापित करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है।
मैंने कहीं पढ़ा था कि दोनों महापुरुषों की मुलाकात ट्रेन में सफर करते समय हुई थी। इसके बाद महात्‍मा गांधी और उनके बीच निर्रत्‍स, हमेशा, निरंतर संपर्क बना रहा, और हर बड़ी घटना या आंदोलन को लेकर दोनों के बीच में विचार-विमर्श होता था, विवाद होता था।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ad
Ad
Ad

MARQUEE

US school students discuss ways to gun control

             Students  discuss strategies on legislation, communities, schools, and mental health and ...

3000-year-old relics found in Saudi Arabia

Jarash, near Abha in saudi Arabia is among the most important archaeological sites in Asir province Excavat ...

Ad

@Powered By: Logicsart